विवादों में रहने वाले डॉक्टर गुरविंदर सिंह समरा द्वारा तख्त श्री पटना साहिब में चढ़ाया गया सोना नकली निकला, हो सकता है एफ आई आर

0
508
ब्यूरो जालंधर के करतारपुर में रहने वाले डॉक्टर गुरविंदर सिंह समरा ने तखत साहिब में करोड़ों रुपए की भेटा चढ़ाई थी यहां भेटा उस समय से लेकर अब तक विवादों में घिरी रही है, तखत साहिब के कमेटी प्रधान अवतार सिंह हित की ओर से बनाई गई तीन मेमोरी जांच कमेटी ने तीन भेट को जांच कराई जिनकी कीमत करोड़ों में बताई गई थी तो वह नकली पाया गया है उसमें से एक भेट में जो सोना था वह तो ठीक था जो 5 किलो सोने की बात कही गई थी जो पीड़ा साहिब में लगाया गया सोना आर्टिफिशियल डुप्लीकेट पाया गया। श्री साहिब में जो सोना लगाया गया था वह भी नाम मात्र था और इस मामले को लेकर पटना साहिब में एक प्रेस कांफ्रेंस आयोजित की गई जिसमें भूतपूर्व जनरल सेक्टरी और मेंबर महेंद्र पाल सिंह ढिल्लों, राजा सिंह, और हरपाल सिंह जोहल ने प्रधान को असली सोना गायब करके नकली सोना रखने के बदले दोषियों पर एफ आई आर दर्ज कराने की मांग की और सख्त कानूनी कार्रवाई और प्रबंधक की धार्मिक कार्रवाई करने की मांग की सोचने वाली बात है कि श्री गुरु दशमेश जी के दरबार में ऐसा नकली सोना चढ़ाना डॉ समरा की क्या साजिश थी सरदार ढिल्लों ने बताया कि डॉ समरा की तरफ से श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की हजूरी में इसकी करोड़ की कीमत बताई गई थी जिस पर डॉक्टर गुरविंदर सिंह समरा वासी करतारपुर जालंधर को और उसके परिवारिक मेंबर को तखत साहिब की प्रबंधक कमेटी की ओर से सम्मानित भी किया गया था। सरदार  ढिल्लो ने आगे बताया कि तखत साहिब में चढ़ाया गया सोने का समान पर कमेटी को पहले ही शक हो गया था इसके लिए जांच कमेटी बनाई गई थी उसमें रविंद्र सिंह जनरल सेक्टरी इंद्रजीत सिंह सुप्रिडट दलजीत सिंह और कथा वाचक सुखदेव सिंह के साथ उन्होंने 18 जुलाई को भेंट की तीनों चीजों की श्री साहेब पीड़ा साहिब और बड़ी कलगी की मशहू जूलर से जांच कराई जिसमें पाया गया कि उसमें नाममात्र सोना था डॉ समरा ने श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की हजूरी में और संगत के सामने 5 किलो सोना और 4 किलो चांदी लगा पीड़ा साहिब की कीमत 5 करोड रुपए बताई थी इसके साथ ही लगभग डेढ़ किलो सोने की कृपाण भेंट करने का भी जिक्र किया था इससे पहले एक करोड 30 लाख रुपए की कल की भेंट करने का भी जिक्र किया था जिसकी कलगी तखत साहिब कमेटी के जनरल सेक्टरी इंद्रजीत सिंह ने की थी तखत साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रंजीत सिंह की और से पटना साहिब में डॉक्टर समरा का दीवान जिक्र कर धन्यवाद किया गया था। श्री गुरु गोविंद सिंह जी के दरबार में नकली सोना चढ़ाया गया या बदला गया इसकी जांच करने की जरूरत है।

 1,258 total views,  4 views today

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here